Prime Punjab Times

Latest news
ਸਰਬੱਤ ਦਾ ਭਲਾ ਚੈਰੀਟੇਬਲ ਟਰੱਸਟ ਨੇ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਜਿਲਿਆਂ ਲਈ ਡੈਡ ਬਾਡੀ ਫਰੀਜ਼ਰ ਕੀਤੇ ਰਵਾਨਾ जिला एवं सत्र न्यायधीश की ओर से जिला कानूनी सेवाएं अथारटीज के सदस्यों के साथ बैठक ਗੜਦੀਵਾਲਾ ਇਲਾਕੇ 'ਚ ਲੁੱਟਾਂ ਖੋਹਾਂ ਦੀਆਂ ਵਾਰਦਾਤਾਂ ਨੂੰ ਨਹੀਂ ਪੈ ਰਹੀ ਠੱਲ,ਲੋਕਾਂ ਚ ਦਹਿਸ਼ਤ ਦਾ ਮਾਹੌਲ  ਸ਼੍ਰੀ ਸ਼ਿਵ ਦੁਰਗਾ ਮੰਦਿਰ ਦਾ ਸਥਾਪਨਾ ਦਿਵਸ ਧੂਮਧਾਮ ਨਾਲ ਮਨਾਇਆ ਗਿਆ 'ਆਪ ਦੀ ਸਰਕਾਰ, ਆਪ ਦੇ ਦੁਆਰ' ਮੁਹਿੰਮ ਤਹਿਤ ਟਾਂਡਾ ਦੇ ਪਿੰਡ ਮੂਨਕ ਖੁਰਦ ਵਿਖੇ ਲਗਾਇਆ ਗਿਆ ਸ਼ਿਕਾਇਤ ਨਿਵਾਰਨ ਕੈਂਪ  ਬੀ.ਐਸ.ਸੀ ਆਈ.ਟੀ ਛੇਵੇਂ ਸਮੈਸਟਰ ਦੀ ਵਿਦਿਆਰਥਣ ਪ੍ਰਭਜੋਤ ਨੇ ਪਹਿਲਾ ਸਥਾਨ ਹਾਸਲ ਕੀਤਾ ਵਿਧਾਇਕ ਉੜਮੁੜ ਜਸਵੀਰ ਸਿੰਘ ਰਾਜਾ ਗਿੱਲ ਅਤੇ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਕੋਮਲ ਮਿੱਤਲ ਨੇ ਸੁਣੀਆਂ ਸਮੱਸਿਆਵਾਂ ਰੰਗੋਲੀ ਮੁਕਾਬਲੇ ਚ ਜੇਤੂ ਰਹੀ ਟੀਮ ਨੂੰ ਕੀਤਾ ਸਨਮਾਨਿਤ ਕੈਬਨਿਟ ਮੰਤਰੀ ਜਿੰਪਾ ਨੇ ਜਵਾਹਰ ਨਵੋਦਿਆ ਵਿਦਿਆਲਿਆ ਨੂੰ ਦਿੱਤਾ 2 ਲੱਖ ਰੁਪਏ ਦਾ ਚੈੱਕ ਦੋ ਅਣਪਛਾਤੇ ਮੋਟਰਸਾਈਕਲ ਸਵਾਰ ਲੁਟੇਰੇ ਇੱਕ ਵਿਅਕਤੀ ਕੋਲੋਂ ਮੋਬਾਈਲ ਫੋਨ ਤੇ ਪਰਸ ਖੋਹ ਕੇ ਹੋਏ ਫਰਾਰ

Home

You are currently viewing पंजाब रोडवेज पनबस/पीआरटीसी कांट्रैक्ट कर्मचारी यूनियन पंजाब की…

पंजाब रोडवेज पनबस/पीआरटीसी कांट्रैक्ट कर्मचारी यूनियन पंजाब की…

पंजाब रोडवेज पनबस/पीआरटीसी कांट्रैक्ट कर्मचारी यूनियन पंजाब की ओर से अपनी मांगों को लेकर की जा रही हड़ताल तीसरे दिन भी जारी

पठानकोट 9 दिसंबर (ब्यूरो) : पंजाब रोडवेज पनबस/पीआरटीसी कांट्रैक्ट कर्मचारी यूनियन पंजाब की ओर से अपनी मांगों को लेकर की जा रही हड़ताल तीसरे दिन भी जारी रही। पठानकोट डिपो गेट के समक्ष धरने को संबोधित करते हुए यूनियन सदस्य जोगिंद्र पाल, लवली, राजकुमार, बिडो प्रधान सुखिविंद्र, सचिव कमलज्योति ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा ट्रांसपोर्ट विभाग के कच्चे कर्मचारियों और पंजाब की आम जनता की फिक्र नही है क्योंकि कच्चे कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री एवं ट्रांसपोर्ट मंत्री के साथ बैठकें भी की तथा उनकी जायज मांगों संबंधी अवगत करवाया। इस दौरान बलवीर सिंह और गुरमीत सिंह ने कहा कि कच्चे कर्मचारियों की मुश्किलों को हल करने की बजाय उन पर मामले दर्ज करना और उन्हें नौकरियों से निकलाने की धमकियों के बाद अब पंजाब सकार द्वारा आउटसोर्सिंग पर भर्ती करने की कोशिश की जा रही है। वर्कशॉप के अध्यक्ष पवन कुमार, कैशियर बलविंद्र सिंह, राकेश कुमार ने कहा कि सरकार द्वारा धक्केशाही की जा रही है तथा पंजाब रोडवेज की बसें डिपो पर खड़ी करके पंजाब रोडवेज के कर्मचारियों से पनबसें चलाने की कोशिश की जा रही है। यूनियन ने सरकार को चेतावनी दी कि सरकार उनकी जायज मांगों को हल करके तथा धक्केशाही को रोका जाए अगर कोई धक्केशाही के कारण अप्रिय घटना घतित होती है, तो उसकी सारी जिम्मेदारी संबंधित मैनेजमेंट व पंजाब सरकार की होगी।

error: copy content is like crime its probhihated