Prime Punjab Times

Latest news
ਜਨਤਕ ਸ਼ਿਕਾਇਤ ਨਿਵਾਰਣ ਕੈਂਪ ਦੌਰਾਨ ਵਿਧਾਇਕ ਘੁੰਮਣ ਤੇ ਏ.ਡੀ.ਸੀ ਨੇ ਸੁਣੀਆਂ ਲੋਕਾਂ ਦੀਆਂ ਸ਼ਿਕਾਇਤਾਂ ਸ਼੍ਰੀ ਭੈਰੋ ਨਾਥ ਜੀ ਦੀ ਮੂਰਤੀ ਸਥਾਪਨਾ 21 ਜੁਲਾਈ ਨੂੰ ਚਿੰਤਪੁਰਨੀ ਮੇਲੇ ਨੂੰ ਸੁਚਾਰੂ ਬਣਾਉਣ ’ਚ ਲੰਗਰ ਕਮੇਟੀਆਂ ਤੇ ਸਮਾਜਿਕ ਸੰਗਠਨ ਕਰਨ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪ੍ਰਸ਼ਾਸਨ ਨੂੰ ਸਹਿਯੋਗ : ਬ੍ਰਮ... ਚੋਰੀ ਦੇ ਮੋਬਾਇਲ ਫੋਨਾਂ ਤੇ ਚੋਰੀਸ਼ੁਦਾ ਮੋਟਰਸਾਈਕਲ ਸਮੇਤ ਦੋ ਨੌਜਵਾਨ ਆਏ ਪੁਲਿਸ ਅੜਿੱਕੇ ਹਰ ਖੇਤਰ ਵਿਚ ਧੀਆਂ ਰੁਸਨਾਉਂਦੀਆਂ ਨੇ ਮਾਪਿਆਂ ਦਾ ਨਾਂ :- ਡਾ.ਹਰਜੀਤ ਸਿੰਘ ਵਿਦਿਆਰਥੀਆਂ ਵਲੋਂ “ਵਾਤਾਵਰਣ ਸੁਰੱਖਿਆ ਮੁਹਿੰਮ” ਚਲਾਈ ਡੀ.ਏ.ਵੀ ਪਬਲਿਕ ਸਕੂਲ ਗੜਦੀਵਾਲਾ ਵਿਖੇ ਇਨਵੈਸਚਰ ਸੈਰਾਮਨੀ ਕਰਵਾਈ ਗਈ ਸਰਬੱਤ ਦਾ ਭਲਾ ਚੈਰੀਟੇਬਲ ਟਰੱਸਟ ਨੇ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਜਿਲਿਆਂ ਲਈ ਡੈਡ ਬਾਡੀ ਫਰੀਜ਼ਰ ਕੀਤੇ ਰਵਾਨਾ जिला एवं सत्र न्यायधीश की ओर से जिला कानूनी सेवाएं अथारटीज के सदस्यों के साथ बैठक ਗੜਦੀਵਾਲਾ ਇਲਾਕੇ 'ਚ ਲੁੱਟਾਂ ਖੋਹਾਂ ਦੀਆਂ ਵਾਰਦਾਤਾਂ ਨੂੰ ਨਹੀਂ ਪੈ ਰਹੀ ਠੱਲ,ਲੋਕਾਂ ਚ ਦਹਿਸ਼ਤ ਦਾ ਮਾਹੌਲ 

Home

You are currently viewing फार्मेसी ऑफिसर्स एसोसिएशन व रूरल हैल्थ फार्मेसी ऑफिसर्स एसोसिएशन ने पंजाब सरकार का फूंका पुतला

फार्मेसी ऑफिसर्स एसोसिएशन व रूरल हैल्थ फार्मेसी ऑफिसर्स एसोसिएशन ने पंजाब सरकार का फूंका पुतला

पठानकोट / खरड 29 दिसंबर (ब्यूरो) : न्यूनतम वेतन पर बिना किसी मैडीकल या सामाजिक सुरक्षा के अनुबंध पर पिछले 16 वर्षों से काम कर रहे फार्मेसी ऑफिसर्स एसोसिएशन ऑफ पंजाब (स्वास्थ्य विभाग) व रूरल हैल्थ फार्मेसी ऑफिसर्स एसोसिएशन (पंचायत विभाग) एवं चतुर्थ श्रेणी इम्पलाइज यूनियन द्वारा सी.एम सिटी खरड़ में पक्का मोर्चा लगाते हुए दिया जा रहा धरना आज 6वें दिन में प्रवृष्टि कर गया है। वहीं, जिला पठानकोट में फार्मेसी ऑफिसर्स एसोसिएशन, रूरल हैल्थ फार्मेसी ऑफिसर्स एसोसिएशन एवं चतुर्थ श्रेणी इम्पलाइज यूनियन द्वारा जिला उपायुक्त कार्यालय मलिकपुर में दिया जा रहा धरना आज 5वें दिन में प्रवृष्टि हो गया। जिसके चलते उक्त एसोसिएशनों के सदस्यों की ओर से अपनी मांगों को लेकर पंजाब सरकार का पुतला फूंकते हुए अपनी भड़ास निकाली गई। इस अवसर पर उक्त एसोसिएशनों के इस संघर्ष को पंजाब ड्राफ्टमैन एसोसिएशन, पंजाब यू.टी मुलाजिम व पैंशनर, इरीगेशन मिनिस्ट्रीयल एसोसिएशन जिला पठानकोट के सदस्यों ने भी भी अपना पूरा समर्थन दिया। जानकारी देते हुए जिला नेता राजेश कुमार ने बताया कि लगभग दो हजार कर्मचारी पिछले 15 वर्षों से न्यूनतम वेतन पर अनुबंध के आधार पर काम कर रहे है और वह काफी बार सरकार से उनकी सेवाएं नियमित करने की गुहार लगा चुके है, किन्तु उसके बावजूद भी उनकी मांगों की तरफ कोई ध्यान न देकर उसे अनदेखा किया जा रहा है, जिसके चलते कर्मचारियों में सरकार के प्रति काफी रोष है। उन्होंने कहा कि अब कर्मचारियों ने मन में ठान लिया है कि जब तक उनकी मांगों को स्वीकृत करके लागू नहीं किया जाता तब तक वह संघर्ष करने हेतु मजबूर रहेंगे और इसकी जिम्मेदारी पंजाब सरकार की होगी। इस मौके पर जिला पठानकोट फार्मेसी अधिकारी राजेश, रामपाल, सर्बजीत कौर, इकबाल, राजेश भरोली, ब्रजेश, पल्लवी, मीनूू, रेणु, ज्योति, ममता नरोट, सुरजीत, रॉकी, पवन, तिलक, लेख, अजीत, कश्मीर, अश्वनी, मनजीत, आरती, राधा आदि उपस्थित थे।

error: copy content is like crime its probhihated